Tuesday, May 24, 2022
Homeबिहारपटनापंचायत पतिनिधियों ने एनडीए पर भरोसा जता विपक्ष को दिया करारा जवाबः...

पंचायत पतिनिधियों ने एनडीए पर भरोसा जता विपक्ष को दिया करारा जवाबः मंगल पांडेय

पंचायत पतिनिधियों ने एनडीए पर भरोसा जता विपक्ष को दिया करारा जवाबः मंगल पांडेय
स्वास्थ्य मंत्री ने विप चुनाव में जीते सभी जन प्रतिनिधियों को दी बधाई
सामाजिक न्याय पखवाड़ा के पहले दिन स्वास्थ्य योजनाओं की दी जानकारी

पटना। सामाजिक न्याय पखवाड़ा के पहले दिन स्वास्थ्य मंत्री श्री मंगल पांडेय ने प्रदेश भाजपा कार्यालय में मीडिया से मुखातिब होते हुए स्वास्थ्य के क्षेत्र में राज्य में केंद्र और राज्य सरकार की योजनाओं की विस्तार से जानकारी दी। साथ ही विधान परिषद चुनाव में एनडीए उम्मीदवारों की जीत पर सभी माननीयों और त्रिस्तरीय पंचायती राज के सभी प्रतिनिधियों को बधाई एवं शुभकामनाएं भी दी। इस अवसर श्री पांडेय ने कहा कि स्थानीय प्राधिकार के चुनाव में एनडीए की अच्छी जीत हुई है। एनडीए की सरकार पंचायती राज व्यवस्था को मजबूत करने की दिशा में पूर्व से कई योजनाएं चला रही हैं। आगे और इसे मजबूत कर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के सपनों को साकार करने का काम करेगा। इस चुनाव में एनडीए सभी 24 सीटों पर चुनाव लड़ी, जिसमें 12 से अधिक सीटों पर जीत दर्ज किया है। प्रतिपक्ष 6 सीटों पर ही सीमटा रहा। इस चुनाव में पंतायत प्रतिनिधियों ने एक बार फिर एनडीए पर भरोसा जता विपक्ष को करारा जवाब दिया है। इससे जहां पंचायतों में तेजी से विकास होगा, वहीं पंचायती राज व्यवस्था और मजबूत होगी।
श्री पांडेय ने कहा कि आयुष्मान भारत योजना आदरणीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की ड्रीम योजना है। इसके तहत देश और राज्य में कई कार्यक्रम चलाये जा रहे हैं, ताकि लोगों को और भी बेहतर सुविधाएं मिल सके। आष्युष्मान भारत योजना के तहत प्रति वर्ष प्रति परिवार को पांच लाख रूपये की सहायता राशि दी जा रही है। राज्य में एक करोड़ आठ लाख लाभुक की सूची में हैं। राज्य में अब तक करीब 29 लाख लोगों को गोल्डन कार्ड जारी कर दिया गया है। इसके अलावा माननीय मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार से बात कर एक बड़ा निर्णय लिया गया है। राज्य के अंदर और 80 लाख राशन कार्डधारी परिवार को इस योजना के तहत जोड़ा जायेगा। माननीय मुख्यमंत्री की सहमति के बाद बहुत जल्द इस प्रस्ताव को कैबिनेट ले जाने वाले हैं, ताकि वंचित लोगों को इस योजना का लाभ मिल सके। यह राशि राज्य सरकार द्वारा वहन किया जायेगा। इसके तहत राज्य के पौने चार से चार करोड़ लोग इस योजना के लाभुक हो जाएंगे। वहीं आयुष्मान भारत इंफ्रास्ट्रचर मिशन के तहत 64 हजार 180 करोड़ रूपये में से छह हजार करोड़ की राशि बिहार को मिलनी है। इस राशि से अस्पतालों में बेडों की संख्या बढ़ायी जायेगी, हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर की संख्या बढ़ायी जायेगी, चलंत अस्पताल चलेंगे, अस्पतालों में संसाधनों की बढ़ोतरी होगी, आईसीयू बेडों की संख्या बढ़ाने के अलावे अस्पतालों में वेंटिलेटर लगाये जाएंगे। जनऔषधि केंद्रों पर लोगों को सस्ती दर जेनेरिक दवाएं उपलब्ध हो रही हैं। पूरे देश में जहां 8700 दुकानें खोली जाएंगी, वहीं बिहार में 900 दुकानें खोलनी है। अब तक 300 दुकानें खुल चुकी है। इससे राज्य के गरीब और मध्यम वर्ग लोगों को दवा खरीद के मामले में काफी राहत मिली है।
श्री पांडेय ने कहा कि आयुष्मान भारत डिजिटल हेल्थ मिशन के तहत राज्य के लोगों को जल्द ही हेल्थ कार्ड जारी किया जायेगा। उसमें व्यक्ति का पूरा डिटेल रहेगा, ताकि दुनिया के किसी भी कोने में कार्ड के माध्यम से डॉक्टर बीमारियों और जांच की अद्यतन जानकारी ले सकेंगे और उनका उपचार कर सकेंगे। सात मार्च से शुरू मिशन इंद्रधनुष फेज-4 के तहत नियमित टीकाकरण में तेजी लायी जा रही है। कोरोना के कारण सामान्य टीकाकरण प्रभावित हुआ था। इसलिए तीन भाग में नियमित टीकाकरण होगा। मई में टीकाकरण अभियान चालने की योजना है। इसके अलावे पूरे देश में जहां एक सौ 85 करोड़ टीकाकरण हुआ, वहीं राज्य में साढ़े 12 करोड़ टीकाकरण किया गया। सामाजिक न्याय पखवाड़ा के तहत पटना के पाटलिपुत्रा खेल परिसर में आज स्वास्थ्य विभाग की ओर से मेगा हेल्थ कैंप लगाया गया, जिसमें करीब डेढ़ हजार दिव्यांग बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया।
इस असवर पर भाजपा चिकित्सा मंच के प्रदेश संयोजक डॉ. मनोज कुमार ने कहा कि आयुष्मान भारत योजना के तहत गोल्डन कार्ड जारी करने के लिए सेंटर्स बनाये जाएंगे। साथ ही गोल्डन कार्ड बनवाने के लिए हेल्प लाइन जारी किया जायेगा। मौके पर मुख्यालय प्रभारी सुरेश रूंगटा, मीडिया प्रभारी अशोक भट्ट, राकेश सिंह, मीडिया पैनलिस्ट विनोद शर्मा इत्यादि मौजूद थे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments

You cannot copy content of this page